जेएनयू प्रशासन चार छात्र संघ प्रतिनिधियों के खिलाफ सभी प्रोक्टोरियल जांचों पर पुनर्विचार करेगा

jnu vc santishree dhulipudi pandit 1686922797

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) प्रशासन ने चार छात्र संघ प्रतिनिधियों के खिलाफ सभी प्रोक्टोरियल जांचों पर पुनर्विचार करने का फैसला किया है। इन चार प्रतिनिधियों में छात्रसंघ अध्यक्ष आकाश अंकुर, महासचिव विनीत कुमार, उपाध्यक्ष अखिलेश कुमार और संयुक्त सचिव संजय कुमार शामिल हैं।

जेएनयू प्रशासन ने कहा कि वह इन जांचों में निष्पक्षता सुनिश्चित करने के लिए पुनर्विचार करना चाहता है। प्रशासन ने कहा कि वह इन जांचों में शामिल सभी पक्षों से सुझाव मांगेगा।

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now

इन जांचों को लेकर छात्र संघ और जेएनयू प्रशासन के बीच विवाद चल रहा था। छात्र संघ का आरोप था कि प्रशासन इन जांचों का इस्तेमाल छात्र संघ के नेताओं को दबाने के लिए कर रहा है।

जेएनयू प्रशासन ने कहा कि वह इन जांचों को जल्द से जल्द पूरा करने के लिए कदम उठाएगा।

इस फैसले का छात्र संघ ने स्वागत किया है। छात्र संघ के अध्यक्ष आकाश अंकुर ने कहा कि यह एक ऐतिहासिक फैसला है। उन्होंने कहा कि यह फैसला विश्वविद्यालय में लोकतंत्र और छात्र आवाज की जीत है।

यह देखना दिलचस्प होगा कि इन जांचों पर पुनर्विचार के बाद क्या होता है। क्या प्रशासन इन जांचों में कोई बदलाव करता है या नहीं?

IBPS SO Prelims Admit Card 2023 जारी, यहां से चेक करें और डाउनलोड करें

Pakistan: पूर्व PM नवाज शरीफ ने भारत की तारीफ की, भारत-पाकिस्तान संबंधों में सुधार को लेकर कहां…

Scroll to Top